Chanakya Niti : शादी के बाद पराई स्त्री से सम्बन्ध बनाना सही है या गलत? जानें

Chanakya Niti : शादी के बाद पराई स्त्री से सम्बन्ध बनाना सही है या गलत? जानें

Chanakya Niti: विवाहित लोगों को शादी के बाद एक दूसरे के प्रति आकर्षण होना आम है। ये गलत नहीं है, लेकिन प्रशंसा इन आकर्षणों को बढ़ाती है, जो हमारे समाज में स्वीकार्य नहीं है। नया प्रेम संबंध शादी को तोड़ सकता है।

नीति शास्त्र में आचार्य चाणक्य ने धर्म, अर्थ, काम, मोक्ष, परिवार, समाज सहित कई विषयों पर नियम बताए हैं। आज ये सभी नियम कठोर और व्यापक हैं। जिसमें यह भी बताया गया है कि आखिर क्यों एक आदमी अपनी पत्नी से मोहभंग कर लेता है और दूसरी स्त्री से मोहित हो जाता है।

विवाहित लोगों को शादी के बाद एक दूसरे के प्रति आकर्षण होना आम है। ये गलत नहीं है, लेकिन प्रशंसा इन आकर्षणों को बढ़ाती है, जो हमारे समाज में स्वीकार्य नहीं है। नया प्रेम संबंध शादी को तोड़ सकता है।
समय के साथ साथ वैवाहिक जीवन में कड़वाहट का कारण वाणी की मधुरता में कमी हो सकती है।

यही कारण है कि घर से बाहर, चाहे वह स्त्री हो या पुरुष हो, मधुरता खोजने लगता है. यहीं परेशानी शुरू होती है। एक वैवाहिक संबंध में शारीरिक सुख के अलावा मानसिक सुख भी महत्वपूर्ण है, जिसकी कमी एक रिश्ते को खत्म कर सकती है।

पति-पत्नी के रिश्तों में आकर्षण की कमी होती है जब वे एक दूसरे को पूरा समय नहीं देते, ध्यान नहीं देते या कमियों को गिनाते रहते हैं। ऐसे में पति अपनी पत्नी की जगह किसी और स्त्री से आकर्षित होता है।

भरोसा वैवाहिक जीवन का सबसे बड़ा हथियार है। जब स्त्री ये भरोसा तोड़ती है, तो पुरुष घर से बाहर रिश्तों की तलाश करने लगता है। ऐसे लोग अपनी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए एक्ट्रा मैरिटल अफेयर में प्रवेश करते हैं।

सन्तान की नई जिम्मेदारी: वैवाहिक जीवन में पति-पत्नी के रिश्तों में कभी-कभी बदलाव आता है। पुरुष और स्त्री एक दूसरे के साथ समय नहीं बिता पाते। चंचल स्वभाव वाले पुरुष घर से बाहर अन्य लोगों की ओर आकर्षित होते हैं, और यहीं से एक्ट्रा मैरिटल अफेयर का आरंभ होता है।