यूपी में 22 जनवरी को मांस-मछली की बिक्री पर लगी रोक, प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर सीएम ने दिया आदेश

यूपी में 22 जनवरी को मांस-मछली की बिक्री पर लगी रोक, प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर सीएम ने दिया आदेश

Ram Mandir Inauguration: अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। 22 जनवरी को रामलला भव्य मंदिर में विराजमान होंगे। रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के दिन उत्तर प्रदेश में मांस-मछली और शराब बेचने पर बैन रहेगा।

योगी सरकार ने रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को उत्सव के रूप में मनाने का ऐलान किया है। शैक्षणिक संस्थानों समेत अन्य प्रतिष्ठानों को भी बंद करने की घोषणा की गई है। स्कूलों और कॉलेजों में सार्वजनिक अवकाश रहेंगे।

22 जनवरी को नहीं बेचे जाएंगे मांस-मछली और शराब

22 जनवरी की शाम हर घर, घाट और मंदिर में दीपोत्सव का कार्यक्रम होगा। योगी सरकार ने सरकारी इमारतों, स्कूल, कॉलेज को दुल्हन की तरह सजाने का फरमान जारी किया है। बता दें कि अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम निर्धारित है। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के न्योते पर देश-दुनिया से वीआईपी अतिथि अयोध्या आएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत भी शामिल होंगे। प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम समाप्त होने के बाद राम मंदिर को खोल दिया जाएगा। श्रद्धालु आराध्य भगवान राम के चरणों में शीश नवा सकेंगे।

प्राण प्रतिष्ठा को उत्सव के रूप में मनाने की है तैयारी

गुरुवार को राम मंदिर के गर्भगृह में रामलला का विग्रह स्थापित कर दिया गया। रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह से पहले योगी सरकार ने आदेश जारी कर कहा है कि प्रदेश में 22 जनवरी को मांस-मछली और शराब की बिक्री प्रतिबंधित रहेगी। योगी सरकार का फैसला 22 जनवरी को स्कूलों और कॉलेजों में सार्वजनिक अवकाश की घोषणा के बाद आया है। आदेश में कहा गया है कि सरकार ने रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के आयोजन को देखते हुए मांस-मछली और शराब की बिक्री को प्रतिबंधित करने का निर्णय लिया है। कांग्रेस, सपा, टीएमसी समेत कई राजनीतिक दलों ने 22 जनवरी के आयोजन से दूरी बनाई है।