केंद्रीय कर्मचारियों को मोदी सरकार देने वाली हैं बड़ा तोहफा, अब सैलरी में आएगा 2 महीने का DA एरियर, जानें

केंद्रीय कर्मचारियों को मोदी सरकार देने वाली हैं बड़ा तोहफा, अब सैलरी में आएगा 2 महीने का DA एरियर, जानें

दिल्ली। केंद्र सरकार के कर्मचारियों को इस महीने बड़ी खुशखबरी मिल सकती है। केंद्र सरकार के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 4% की बढ़ोतरी मिलने की संभावना है। सरकार महंगाई भत्ते और महंगाई राहत दोनों में बढ़ोतरी करती है।

महंगाई भत्ता सरकारी कर्मचारियों को दिया जाता है, जबकि महंगाई राहत पेंशनर्स को दिया जाता है। डीए को आम तौर पर साल में दो बार रिवाइज किया जाता है , जनवरी और जुलाई में। डीए बढ़ोतरी के बारे में घोषणा मार्च 2024 में होली से पहले होने की उम्मीद है। अगर सरकार होली से पहसे डीए बढ़ाती है तो मार्च के अंत में मिलने वाली सैलरी में 2 महीने का डी एरियर भी मिलेगा।

DA बढ़ोतरी का कैलकुलेशन कैसे होता है?

कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी का कैलकुलेशन लेबर ब्यूरो हर महीने जारी किए जाने वाले इंडस्ट्रियल लेबर के नवीनतम उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI-IW) के आधार पर किया जाती है। पिछली बार डीए को अक्टूबर 2023 में रिवाइज किया गया था, जब डीए 4 फीसदी बढ़ाकर 46 फीसदी कर दिया गया था। 4% DA बढ़ोतरी के साथ कुल DA बढ़कर 50% हो जाएगा।

मिलेगा 2 महीने का डीए एरियर

सरकार मार्च में होली से पहले डीए बढ़ा सकती है। सरकार के ऐसा करने पर मार्च की सैलरी में दो महीने का डीए एरियर भी आएगा। डीए में चार फीसदी की बढ़ोतरी 1 जनवरी से लागू मानी जाएगी। मार्च की सैलरी में जनवरी और फरवरी की दो महीने का डीए एरियर भी मिलेगा।

करीब 1 करोड़ कर्माचारियों और पेंशनर्स को फायदा होगा

केंद्र सरकार के फैसले से 48.67 लाख केंद्र सरकार के कर्मचारियों और 67.95 लाख पेंशनर्स को फायदा हुआ। इससे पहले अर्धसैनिक बलों सहित ग्रुप C और गैर-राजपत्रित ग्रुप B स्तर के अधिकारियों के लिए दिवाली बोनस को सरकार की तरफ से मंजूरी दी गई थी। केंद्र सरकार के कर्मचारियों का डीए देश की महंगाई दर पर आधारित है। यदि महंगाई दर अधिक है, तो डीए में और बढ़ोतरी होने की संभावना है।

डीए में कुल कितनी बढ़ोतरी की उम्मीद?

आने वाले महीने में 4 फीसदी डीए बढ़ोतरी के बाद कुल महंगाई भत्ता और महंगाई राहत बढ़कर 50 फीसदी हो जाएगी। औद्योगिक श्रमिकों के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई-आईडब्ल्यू) का 12 महीने का औसत 392.83 रहा। इस सीपीआई-आईडब्ल्यू डेटा के मुताबिक, डीए मूल वेतन का 50.26 फीसदी आ रहा है।