पति ने गोलियों को खाकर पत्नी के साथ की हैवानियत, पत्नी का हुआ ये हाल, जानें पूरा मामला ?

पति ने गोलियों को खाकर पत्नी के साथ की हैवानियत, पत्नी का हुआ ये हाल, जानें पूरा मामला ?

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले से मानवता को शर्मसार कर देने वाली खबर सामने आई है। बता दें कि यहां शादी के 8 दिन बाद युवक ने अपनी पत्नी के साथ हैवानियत की हैं। आरोप है कि पति ने यौनवर्धक गोलियां खाकर पत्नी से संबंध बनाए और अपनी हवस के चक्कर में उसे बुरी तरह से जख्मी कर दिया।

जब पत्नी की स्थिति खराब हुई तो उसे कानपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। अस्पताल के डॉक्टर ने बताया कि मृतका के संग इस स्तर तक दरिंदगी हुई थी कि उसकी हालत एक गैंगरेप पीड़िता से भी बदतर थी। फिलहाल इस मामले में कार्रवाई के लिए मृतका के भाई ने पुलिस को तहरीर दी है।

अब जानिए पूरा मामला

बता दें कि यह मामला हमीरपुर मुख्यालय का है। यहां उरई की रहने वाली एक यवती की 3 फरवरी को शादी हुई और 4 तारीख को उसकी विदाई हुई। युवती के मां-बाप नहीं हैं, ऐसे में उसके भाई ने ही उसकी शादी की थी। मृतका की भाभी के अनुसार, सात फरवरी को वह अपने पति संग एक वैवाहिक कार्यक्रम में कानपुर गई हुई थी, तभी ननद के ससुरालीजनों का फोन आया, जिन्होंने यह आरोप लगाया कि उन लोगों ने युवती की बीमारी छिपाकर शादी की है। उसे उल्टियां हो रही हैं और तबीयत खराब है।

मृतका की भाभी के अनुसार, इसके बाद उन्होंने शादी छोड़ी और ननद को लेकर सीधे कानपुर के एक प्राइवेट नर्सिंग होम में भर्ती कराया, जहां उसका इलाज हुआ, मगर आराम नहीं मिला।

मृतका ने भाभी को ये सब बताया था

मृतका की भाभी का दावा है कि जब उसने ननद से जोर देकर पूछा तो उसने बताया कि पति ने उसके साथ यौनवर्धक गोलियां खाकर संबंध बनाए हैं, जिससे उसकी हालत बिगड़ी है। इसके बाद उसे गायनेकोलॉजिस्ट को दिखाया गया। चेकअप के बाद गायनेकोलॉजिस्ट ने कहा कि युवती के साथ ऐसे संबंध बनाए गए हैं, जैसे गैंगरेप किया गया हो। युवती को अंदरूनी जख्म हो गए थे, जिसकी वजह से इंफेक्शन फैल गया और 10 फरवरी को युवती की कानपुर में मौत हो गई।

मृतका के भाई ने ये बताया
मृतक के भाई का कहना है कि वह ससुरालियों के विरुद्ध कोतवाली में तहरीर देगा। हमीरपुर थाने के इंस्पेक्टर अनूप सिंह ने बताया कि घटना स्थल उरई जिला जालौन है, इसलिए FIR उसी थाने में दर्ज होगी। अगर हमें एप्लिकेशन मिलती है तो हम उसे कार्रवाई के लिए उरई भेज देंगे।