School Closed: कड़ाके की ठंड में आठवीं तक के बच्चों को राहत, डीएम के आदेश फिर बढ़ी स्कूलों में छुट्टी

School Closed: कड़ाके की ठंड में आठवीं तक के बच्चों को राहत, डीएम के आदेश फिर बढ़ी स्कूलों में छुट्टी

सर्दी का सितम कम होने का नाम नहीं ले रहा है। रविवार को भी धूप नहीं निकली। शीतलहर और कोहरे का प्रकोप रहा। सोमवार सुबह से कोहरा छाया हुआ है। ठंड के प्रकोप को देखते हुए जिला प्रशासन ने कक्षा आठ तक के स्कूलों में बच्चों की छुट्टी दो दिन और बढ़ा दी है।

स्कूल अब 30 जनवरी तक बंद रहेंगे।

मौसम के सर्द तेवर और तीखे हो गए है। रविवार सुबह से लेकर दोपहर करीब 12 बजे के बाद तक सड़कों पर कोहरा छाया रहा। साथ ही बर्फीली हवाओं के चलते गलन में भी इजाफा हुआ। हाल यह हुआ कि घर से बाहर निकलने वाले लोग दिनभर कंपकंपाते रहे। दोपहर बाद धूप निकलने का अनुमान था लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

सोमवार को अधिकतम तापमान एक डिग्री गिरकर 12 डिग्री तो न्यूनतम तापमान आठ डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग के मुताबिक मंगलवार के बाद मौसम में कुछ बदलाव देखने को जरूर मिलेंगे। धूप निकलने ने कुछ राहत का अनुमान लगाया जा रहा है।

बच्चों-बुजुर्गों का रखें ध्यान

ऐसे मौसम में सबसे ज्यादा दिक्कतें बच्चों और बुजुर्गों को हो रही हैं। जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ. आईकेराम चंदानी बताते हैं कि इस समय बुजुर्गों और बच्चों के कमरे का तापमान बराबर रखें, कमरा न तो ज्यादा ठंडा होना चाहिए और न ही गर्म। साथ ही बुजुर्गों को पूरे दिन हल्का गुनगुना पानी पीने को दें। पर्याप्त गर्म कपड़े पहनाएं। जरूरत हो तभी घर से बाहर निकलें, अन्यथा कमरे में ही रहें। सुबह और देर शाम घर से बाहर बिल्कुल न निकलें।

दो-दो दिन करके बढ़ रहा स्कूलों में अवकाश

ठंड और गलन को देखते हुए लगातार दो-दो दिन का अवकाश बढ़ रहा है। 17 जनवरी के बाद से लगातार दो-दो दिन अवकाश घोषित हो रहा है। ऐसे में बच्चों से लेकर अध्यापक तक असमंजस में दिखाई दे रहे हैं। रविवार को भी डीएम के आदेश के बाद बीएसए प्रवीण कुमार तिवारी ने कक्षा आठ तक के सभी परिषदीय स्कूल, निजी और इंग्लिश मीडियम स्कूलों में 30 जनवरी का अवकाश घोषित किया गया है।

पिछले तीन वर्षों में इस बार की 28 जनवरी सबसे सर्द

पिछले तीन साल के तापमान पर अगर नजर डाली जाए तो इस बार की 28 फरवरी सबसे ज्यादा सर्द रही। पिछले वर्षों में न्यूनतम पारा भले ही सात-आठ डिग्री रहा हो मगर अधिकतम तापमान 17 से 20 डिग्री रहता था। इस साल अधिकतम तापमान में गिरावट देखी जा रही है। न्यूनतम और अधिकतम तापमान के बीच अंतर कम होने से दिन भी रातों जैसे सर्द हो गए है।