Share Market Kya Hota Hai | शेयर मार्केट क्या है और कैसे चलता है?

Share Market Kya Hota Hai | शेयर मार्केट क्या है और कैसे चलता है?
Image : Share Market Kya Hota Hai

Share Market Kya Hota Hai: शेयर बाजार एक ऐसा मार्केट है, जहाँ लोग शेयर्स खरीदने और बेचने का काम करते है। शेयर्स कंपनियों की स्थिति और प्रगति का प्रतिष्ठान हिस्सा होते हैं और ये लोगों को विभिन्न कंपनियों में निवेश करने का मौका देती हैं।

शेयर मार्केट क्या है?

शेयर बाजार (Share Market Kya Hota Hai) एक वित्तीय बाजार होता है, जहाँ कंपनियों के शेयर खरीदे और बेचे जाते हैं। शेयर्स कंपनियों के संसाधन के हिस्सेदारी का प्रतिनिधित्व करते हैं, जिससे लोग लाभ और नुकसान का हिस्सेदार बनते हैं। शेयर्स के माध्यम से लोग विभिन्न कंपनियों में निवेश कर सकते हैं। शेयर बाजार उच्च और निम्न मूल्यों के साथ खेलता है और यह निवेशकों के लिए लाभकारी हो सकता है, लेकिन साथ ही उनके लिए जो जोखिम लेने के लिए तैयार नहीं हैं, वह नुकसानकारी भी हो सकता है।

Share Market Kya Hota Hai | शेयर मार्केट क्या है और कैसे चलता है?

शेयर मार्केट के विभिन्न प्रकार के होते हैं

धोकेबाजार (Primary Market):

यह बाजार ( Share Market Kya Hota Hai ) वह स्थान होता है जहाँ कंपनियाँ अपने नए शेयरों को पहली बार बेचती हैं। यहाँ पर निवेशक नए शेयर खरीद सकते हैं और इसके जरिए कंपनियों को पूंजी की आवश्यकता पूरी करने में मदद मिलती है।

द्वितीयक बाजार (Secondary Market)

यह बाजार वह स्थान होता है जहाँ पहले से बाजार में उपलब्ध शेयरों की खरीद-बेच संवाद संपन्न होती है। यहाँ निवेशक आपस में शेयर्स को खरीदने और बेचने का व्यापार कर सकते हैं।

शेयर बाजार में कई प्रकार के होते है शेयर्स

आम शेयर्स

ये शेयर्स कंपनी के लिए मतदाताओं का हिस्सा होते हैं और उन्हें आय देने का हक़ प्रदान करते हैं।

प्राधिकृत शेयर्स

इन शेयरों के माध्यम से निवेशक कंपनी के नियमित आय का हिस्सा बनते हैं, लेकिन उन्हें मतदाताओं की तरह नहीं देखा जाता है।

प्राधिकृत पूँजीवादी शेयर्स

ये शेयर्स कंपनियों के निवेशकों को निवेश के लिए उपलब्ध कराए जाते हैं और इनके माध्यम से कंपनियाँ अपनी पूंजी को वृद्धि दिलाने में मदद प्राप्त करती हैं।

शेयर मार्केट पर ऐसे रखे नजर

शेयर बाजार (Share Market Kya Hota Hai) का प्रबंधन विभिन्न संगठनों द्वारा किया जाता है, जैसे कि स्टॉक एक्सचेंज और प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज जैसे कि न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज, लंडन स्टॉक एक्सचेंज, और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज आदि, उपयुक्त नियम और विधियों के अनुसार शेयर्स की खरीद-बेच की प्रक्रिया को प्रबंधित करते हैं।

शेयर मार्केट निवेशकों को लाभ प्रदान कर सकता है

  1. मुनाफा: यदि आप शेयर्स को सही समय पर खरीदते हैं और उन्हें सही समय पर बेचते हैं, तो आप मुनाफा कमा सकते हैं।
  2. उच्च प्रतिशत लाभ: कुछ शेयर्स में बड़े प्रतिशत के लाभ का मौका हो सकता है, लेकिन यह साथ ही जोखिम भी होता है।
  3. साझा मालिकी का मौका: शेयर्स के माध्यम से आप किसी कंपनी के साथी बन सकते हैं और उसकी साझा मालिकी का हिस्सेदार बन सकते हैं।
  4. निवेश का एक तरीका: निवेशकों के लिए शेयर बाजार एक तरीका हो सकता है अपनी पूंजी को व्यापारिक रूप से बढ़ाने का।
  5. आयकर का लाभ: कुछ देशों में, निवेशकों को शेयर्स के बारे में कुछ आयकर के लाभ प्राप्त हो सकते हैं।
Share Market Kya Hota Hai | शेयर मार्केट क्या है और कैसे चलता है?

निवेश करने से पहले ध्यान देना चाहिए

  1. विश्लेषण: शेयर्स की आर्थिक स्थिति, कंपनी के कारोबार की स्थिति, और उसके उत्पादों के प्रति आगामी मांग की अवलोकन करना महत्वपूर्ण है।
  2. विवेकपूर्ण निवेश: निवेशकों को अपने वित्तीय लक्ष्यों, रिस्क टोलरेंस, और निवेश की अवधि के आधार पर निवेश करने का निर्णय लेना चाहिए।
  3. विवेकशील निवेश: निवेश के समय विवेकशीलता बरतना चाहिए और चरम संतोष या निराशा से बचने के लिए समर्थ होना चाहिए।
  4. जागरूकता: निवेश करने से पहले शेयर बाजार और विभिन्न प्रकार के शेयरों की जानकारी प्राप्त करना महत्वपूर्ण है।
  1. निवेश की अवधि: आपके निवेश के माध्यम से प्राप्त करने के लक्ष्य के आधार पर, आपको निवेश की अवधि का निर्णय लेना होगा। यदि आपके लक्ष्य छोटे-मध्यम अवधि के हैं, तो आप संक्षिप्त अवधि के लिए निवेश कर सकते हैं।
  2. निवेश का प्रकार: आपके पास विभिन्न निवेश के प्रकार, जैसे कि शेयर्स, म्यूचुअल फंड, और बॉन्ड्स, आदि होते हैं। आपको अपनी वित्तीय योजना के आधार पर उपयुक्त निवेश का प्रकार चुनना चाहिए।
  3. रिस्क टोलरेंस: आपकी रिस्क टोलरेंस आपके निवेश के प्रकार और शेयर बाजार में प्रतिभाग करने के प्रति आपकी सामर्थ्य को दर्शाती है। आपको अपने रिस्क प्रोफाइल के आधार पर निवेश करना चाहिए।
  4. निवेश की रिस्क और लाभ: शेयर बाजार में निवेश का विश्लेषण करते समय आपको यह जानकारी होनी चाहिए कि निवेश के साथ साथ रिस्क भी आता है। लाभ पाने के लिए आपको कुछ रिस्क उठाना हो सकता है।
  5. डीमेट और ट्रेडिंग खाता: आपको एक डीमेट खाता की आवश्यकता होगी जिसके माध्यम से आप शेयर्स खरीदने और बेचने का व्यापार कर सकते हैं।
  6. समय पर निवेश: शेयर बाजार में समय पर निवेश करना महत्वपूर्ण होता है। यह आपके निवेश के परिणामों पर असर डाल सकता है।

शेयर मार्केट में वित्तीय जोखिम के ख़ुद होंगे जिम्मेदार

शेयर बाजार (Share Market Kya Hota Hai) निवेश विचारशीलता, जागरूकता, और समझदारी के साथ किया जाना चाहिए। यह एक वित्तीय बाजार होता है जिसमें निवेश करने से पहले आपको गहराई से समझना चाहिए कि आपके लिए कौन-कौन से निवेश विकल्प सबसे उपयुक्त हो सकते हैं।