लखनऊ: पहले पति को दिया तलाक, फिर दूसरे ने शादी के 3 दिन बाद छोड़ा साथ, पीड़िता बोली- दांव पर लगी है जिंदगी

0

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। विकास नगर निवासी महिला को पति ने दहेज के लिए छोड़ दिया। जिसके बाद महिला अपनी बच्ची के अच्छे भविष्य के लिए प्राइवेट नौकरी करने लगी।

इसी बीच उसकी मुलाकात एक युवक से हुई, उसने बच्ची को अच्छा भविष्य देने का वादा कर महिला का शारीरिक शोषण करने लगा। हद तो तब हो गई जब उसने मंदिर जाकर महिला से शादी की और अप्राकृतिक संबंध न बनाने पर उसे नशीला पदार्थ देने लगा। वहीं महिला के गर्भवती होने पर गर्भपात की दवा खिला दी। बता दें कि किसी तरह युवक के चुगंल से बचने के बाद महिला अपनी बेटी को उसका हक दिलाने और आरोपी को सजा दिलाने के लिए पीड़ता पुलिस-थाने के चक्कर लगा रही है।

पीड़िता ने पहले पति से लिया तलाक।

Also Read -   बकरी का रेप कर रहा था युवक, मिमयाना सुन पहुँच गई महिला और फिर हुआ ये…

पीड़िता ने आपबीती बताते हुए कहा कि दस साल पहले एक उसके घरवालों ने रिश्तेदार के कहने पर शादी करा दी। शादी के कुछ दिन बाद ही पति दहेज और नौकरी की मांग को लेकर प्रताड़ित करने लगा। पीड़िता ने बताया कि बेटी को इन सब से दूर रखने और अच्छा भविष्य देने के लिए उसने परिवार और समाज से बगावत कर पति से तलाक ले किया। इसके बाद वह जनवरी 2020 में गुडंबा के पास पीयूष गुप्ता के घर में किराये पर रहकर ऑनलाइन काम करने लगी। इस दौरान उसकी मुलाकात पीयूष से हुई। धीरे-धीरे दोनों के बीच दोस्ती बढ़ी। इसके बाद पीयूष ने बेटी को अपनाने की बात कहकर महिला को अपने प्यार के जाल में फंसा लिया। शादी का झांसा देकर महिला का शारीरिक शोषण करने लगा।

शादी का झांसा देकर करता रहा शोषण।

Also Read -   बच्चो ने किया भण्डारा, मोहल्ले वासियो ने किया सम्मानित

इसके बाद पीयूष ने अपनी मां ऊषा गुप्ता से शादी की बात बोली। फिर अचानक से घर में लड़ाई होने की बात बोलकर घर खाली करवा लिया। फिर वह महिला और उसकी बेटी को लेकर अपने गोमती नगर स्थित एक मकान में रहने लगा। वहीं 2-3 महीने बाद वहां से मकान खाली कर तहरोही में मकान दिलवा दिया। इस बीच वह लगातार महिला शोषण करता रहा। जब पीड़िता उससे शादी की बात करती तो वह बात को टाल देता। वहीं जब उसे महिला के गर्भवती होने का पता चला तो उसने धोखे से गर्भपात वाली दवा खिला दी। तबियत खराब होने पर उसने बताया कि अबॉर्शन वाली दवा खिलाई है। पीड़िता ने पीयूष की मां और भाई को मामले की जानकारी दी तो उन्होंने जल्द शादी कराने की बात कही।

बेटी को जिंदा जलाने का प्रयास।

Also Read -   कमर में तंमचा लगाकर घूम रही थी महिला टीचर, पुलिस ने पकड़ा तो झाड़ने लगी रौब

इसी दौरान पीयूष की किसी दूसरी लड़की से दोस्ती हो गई। विरोध करने पर 16 दिसंबर को पीयूष ने महिला से मंदिर में शादी कर ली। आरोप है कि इसके बाद अनैतिक संबंध बनाने पर जोर दिया। महिला द्वारा इंकार किए जाने पर कोल्डड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर रात भर उसके साथ दुष्कर्म किया। जब महिला ने उसका विरोध किया तो शादी के तीसरे दिन ही उसने साथ रहने से इंकार कर दिया और छोड़कर चला गया। जब पीड़िता ने जब इसकी शिकायत उसके परिवार वालों से की तो गैस का पाइप खोलकर पीड़िता की बेटी को जिंदा जलाने का प्रयास किया गया। पीड़िता ने आरोप लगाते हुए कहा कि मामले की शिकायत गुडंबा थाने में दी है। पुलिस ने आरोपी को पकड़ने के बाद भी जेल नहीं भेजा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here