खून बहेगा, ब्राह्मणों वापस जाओ, हम आ रहे हैं बदला लेने’, JNU की दीवारों पर लिखे नारे, जानें पूरा मामला

0
खून बहेगा, ब्राह्मणों वापस जाओ, हम आ रहे हैं बदला लेने', JNU की दीवारों पर लिखे नारे, जानें पूरा मामला

दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) एक बार फिर विवादों में है। विश्वविद्यालय परिसर में स्थित कई इमारतों की दीवारों पर विवादास्पद नारे लिखे गए।

इसके साथ ही कुछ प्रोफेसरों के चैंबरों के गेट पर विश्वविद्यालय के बजाए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) में जाने के लिए कहा गया है। इसका फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

Also Read -   सोनाक्षी सिन्हा का छलका दर्द, बोली हर कोई लगा रहा था ग़लत जगह हाथ, वही सुनकर आंसू छलक पड़े

छात्रों ने दावा किया कि विश्वविद्यालय परिसर के स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज- II भवन की दीवारों पर ब्राह्मण और वैश्य समुदायों के खिलाफ नारे लिखे गए हैं। एक जगह लिखा है ‘ब्राह्मण-बनिया, हम आ रहे हैं बदला लेने’। एक जगह लिखा है ‘ब्राह्मण परिसर छोड़ो, ब्राह्मण भारत छोड़ो’। वहीं, एक जगह ‘अब खून बहेगा’ लिखा हुआ है।

Also Read -   PM Kisan की 13वीं क‍िस्‍त के 2000 रुपये आने से पहले कर ले ये जरूरी काम, नही तो कट जायेगा नाम

वहीं, तीन प्रोफसरों के चैंबर के गेट पर ‘शाखा में जाओ’ लिखा गया है। इसको लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। वहीं, संघ से जुड़े छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ने इसे वामपंथियों की बर्बरता बताया है।

JNU एबीवीपी के अध्यक्ष रोहित कुमार ने कहा, “एबीवीपी कम्युनिस्ट गुंडों द्वारा अकादमिक स्थानों में बड़े पैमाने पर जातिसूचक नारे लिखने की निंदा करता है। कम्युनिस्टों ने स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज- II बिल्डिंग में जेएनयू की दीवारों पर अपशब्द लिखे हैं। उन्होंने उन्हें डराने के लिए स्वतंत्र सोच वाले प्रोफेसरों के कक्षों को विरूपित किया है।”

Also Read -   पत्नी ने पति की नही की पूरी डिमांड, तो पति ने प्राइवेट पार्ट में डाल दिया Fevikwik

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here