ताकि फिर कभी कही भी न हो ऐसा हादसा, PM मोदी ने हाई लेवल मीटिंग मे दिया एक्शन प्लान बनाने का निर्देश

0

मोरबी मे हुए पुल हादसा पर पीएम मोदी ने मंगलवार को दुबारा हाईलेवल मीटिंग कर इस दुर्घटना के बाद की कार्रवाईयों के बारे मे जानकारी ली।

उन्होंने अधिकारियों को इस हादसे के प्रत्येक कारण की विस्तृत रिपोर्ट बनाने का निर्देश देते हुए कहा कि इस रिपोर्ट के बाद एक ऐसी नीति बनाई जाए ताकि फिर कही ऐसी घटना की पुनरावृत्ति न होने पाए। पीएम मोदी ने अधिकारियों को यह आदेश भी दिया कि इस घटना से प्रभावित परिवारों को किसी प्रकार की असुविधा न हो यह सुनिश्चित की जाए। उन्होंने अधिकारियों से पीड़ित परिवारों से लगातार संपर्क मे रहने और उनकी हर संभव मदद का निर्देश दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि अधिकारियों को प्रभावित परिवारों के संपर्क मे रहना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि इस दुखद घड़ी मे उन्हें हर संभव मदद मिले।

Also Read -   26 अप्रैल का राशिफ़ल: स्वास्थ्य ठीक रहेंगा, मान-सम्मान मिलेगा, रोजगार में लाभ होगा, जानें अपने राशि का हाल

एसपी ऑफिस मे प्रधानमंत्री ने की हाईलेवल मीटिंग।

मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मोरबी पहुंचे थे। यहां उन्होंने घटनास्थल पर पहुंचकर इस दु:खद घटना की जानकारी ली। फिर अस्पताल पहुंचकर उन्होंने घायलों से बातचीत कर उनको हर संभव मदद का आश्वासन देते हुए इलाज के बारे मे पूछताछ की। घायलों से मुलाकात के पहले पीएम मोदी ने रेस्क्यू टीमों से विस्तृत जानकारी ली और उनकी हौसला आफजाई की है। फिर एसपी ऑफिस पहुंचकर जान गंवाने वाले लोगों के परिजन से मुलाकात कर उनको सांत्वना दी। शोक संतप्त परिवारों ने बताया कि प्रधानमंत्री ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया है। घटना से जुड़ी एक-एक जानकारी और कार्रवाईयों का अपडेट लेने के लिए उन्होंने एसपी ऑफिस मे हाईलेवल मीटिंग की है। यहां अधिकारियों ने प्रधानमंत्री को बचाव अभियान और प्रभावित लोगों को दी जाने वाली सहायता के बारे मे जानकारी दी।

Also Read -   कलयुगी बेटे ने बुजुर्ग पिता को बेहरमी से पीटा, घटना का वीडियो हुआ वायरल

ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए बनें रणनीति।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि समय की मांग है कि एक विस्तृत और व्यापक जांच की जाए जो इस दुर्घटना से संबंधित सभी पहलुओं की पहचान करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि जांच से महत्वपूर्ण सीख को जल्द से जल्द लागू किया जाना चाहिए। बैठक में मुख्यमंत्री भूपेंद्रभाई पटेल, गृह राज्य मंत्री हर्ष संघवी, गुजरात सरकार मे मंत्री बृजेश मेरजा, गुजरात के मुख्य सचिव, डीजीपी, मोरबी कलेक्टर, एसपी, पुलिस महानिरीक्षक, विधायक और सांसद समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Also Read -   PM Kisan Samman Nidhi Yojana: इन किसानों को नहीं मिलेंगे 11वीं किस्त के 2000 रुपये, जानिए क्या है वजह?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here