बुद्धिमान व्यक्तियों की पहचान कराती है गीता, जाने ऐसे लोगो की खूबियां

0

श्रीमद्भागवत गीता मे भगवान कृष्ण के उपदेशों का वर्णन किया गया है। गीता के ये उपदेश श्रीकृष्ण द्वारा महाभारत युद्ध के दौरान अर्जुन को दिए थे। गीता मे दिए ये उपदेश आज भी उतने ही प्रासंगिक है जितने की तब थे।

इसमे मनुष्य को जीवन जीने की सही राह दिखाई गई है। कहा जाता है कि गीता की बातों को जीवन मे अपनाने से व्यक्ति को खूब तरक्की मिलती है और वह अपने हर लक्ष्य को सरलता से प्राप्त कर लेता है।

Also Read -   Shanivar Totke: शनिवार के दिन करें ये 5 चमत्कारी उपाय, मिलेंगी नौकरी और बनेगा व्यापार

गीता एकमात्र ऐसा ग्रंथ है जो मानव को जीने का ढंग सिखाता है।

श्रीमद भगवत गीता मनुष्य को जीवन मे धर्म, कर्म और प्रेम का पाठ पढ़ाती है। गीता का ज्ञान मानव जीवन और जीवन के बाद के जीवन दोनों के लिए बेहद उपयोगी माना गया है दरअसल। गीता संपूर्ण जीवन दर्शन है और इसका अनुसरण करने वाला व्यक्ति सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। उसे हर कदम कर सफलता मिलती है। गीता मे भगवान श्रीकृष्ण ने बुद्धिमान व्यक्ति की खास पहचान भी बताई है। आइये जानते है बुद्धिमान व्यक्ति का क्या-क्या पहचान होती है।

Also Read -   खाटू श्याम जी बर्थडे: करे भगवान खाटू श्याम जी की आरती और चालीसा का पाठ, दूर होगी हर परेशानी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here