जिस कमरे में रखे थे श्रदा के टुकड़े उसी कमरे में दूसरी लड़की संग रंगरेलियां मना रहा था आफताब

0

नई दिल्ली: श्रद्धा की निर्मम हत्या की दास्ताँ सुनकर पूरा देश अंदर तक हिल गया है, वही अब इस केस को लेकर अब नए-नए खुलासे हो रहे है। 27 वर्षीय श्रद्धा वाकर के 35 टुकड़े करने वाला आफताब अमीन पूनावाला बकरा काटने में ट्रेंड है।

क़त्ल करने से पहले वह श्रद्धा के साथ हिमाचल प्रदेश एवं उत्तराखंड घूमने गया था। इतना ही नहीं दक्षिणी दिल्ली के महरौली के उसी फ्लैट में वह एक और युवती के साथ इश्कबाजी कर रहा था, जहाँ फ्रिज में श्रद्धा के शव के टुकड़े रखे हुए थे। हालाँकि युवती को इसकी खबर नहीं लगी।

प्राप्त एक रिपोर्ट के अनुसार, श्रद्धा के क़त्ल के पश्चात् आफताब फ्लैट में इस लड़की को लेकर आया था। साइकोलॉजिस्ट बताई जा रही यह युवती बंबल एप के माध्यम से आफताब के संपर्क में आई थी। इसी डेटिंग ऐप से श्रद्धा से भी उसकी पहचान हुई थी। कहा जा रहा है कि श्रद्धा के क़त्ल की योजना आफताब ने मुंबई में ही अप्रैल में बना ली थी। इसी योजना के तहत वह श्रद्धा को घुमाने हिमाचल प्रदेश एवं उत्तराखंड लेकर गया था। तत्पश्चात, दिल्ली लौटकर उसने जान-बूझकर ऐसी जगह पर फ्लैट लिया, जहाँ जंगल पास में हो। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अप्रैल में हिमाचल से लौटने के पश्चात् श्रद्धा को लेकर आफताब पहले पहाड़गंज के एक होटल में रहा। फिर एक सस्ते पीजी में रुका। इसमें आफताब की सहायता उसके साथियों ने की थी। जंगल के बगल में फ्लैट मिलते ही आफताब वहाँ शिफ्ट हो गया। इसी फ्लैट में 18 मई 2022 को गला सोते वक़्त उसने गला दबाकर श्रद्धा का क़त्ल कर दिया। रात भर वह लाश के साथ रहा। अगली प्रातः बाजार से फ्रिज और आरी खरीद कर लाया था।

Also Read -   दोस्त ने सितंबर मे परिजनों को दी थी श्रदा के लापता होने की खबर, फिर

श्रद्धा के क़त्ल के पश्चात् आफताब ने केमिकल से पूरे कमरे और हर सामान को साफ किया था। दिल्ली पुलिस की तहकीकात में फ्रिज से एक बूँद खून का कतरा भी नहीं मिला। कहा जा रहा है कि ग्रेजुएशन के पश्चात् आफताब मुंबई के एक होटल में शेफ की नौकरी कर चुका था। वहाँ उसने मुर्गा एवं बकरा काटने की ट्रेनिंग ली थी। डेक्सटर नाम की वेब सीरीज देख उसने लाश 18 दिनों में ठिकाने लगाई थी। कहा जा रहा है कि वर्ष 2019 में एक डेटिंग एप के माध्यम से आफताब एवं श्रद्धा की मुलाकात हुई थी। तब से दोनों एक साथ ही रह रहे थे। श्रद्धा के क़त्ल के पश्चात् आफताब ने फिर से डेटिंग एप को डाउनलोड कर लिया एवं गुरुग्राम के एक कॉल सेंटर में नौकरी भी कर ली। श्रद्धा के क़त्ल के राज को छिपाने के लिए उसके इंस्टाग्राम एकाउंट से दोस्तों को मैसेज भेजे। श्रद्धा के क्रेडिट कार्ड बिलों का भी भुगतान किया।

Also Read -   PM Kisan योजना में हुए 8 बड़े बदलाव, किसानों को लौटानी होगी 2000 रुपये वाली सभी किस्तें, जानिए क्या है वजह?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here