छात्र के प्राइवेट पार्ट में डाल दी पेंसिल-टूथब्रश, ऐसा न करने पर दी गुप्तांग काटने की धमकी, वीडियो बनाकर किया ऐसा काम

0
छात्र के प्राइवेट पार्ट में डाल दी पेंसिल-टूथब्रश, ऐसा न करने पर दी गुप्तांग काटने की धमकी, वीडियो बनाकर किया ऐसा काम

पुलिस की लाख कोशिश के बावजूद अपराधिक घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। पुलिस लोगों को लगातार जागरूक कर रही है। इसके बाद भी क्राइम की वारदातें नहीं थम रही हैं। नया मामला गुजरात के राजकोट का है। जिसे सुनकर आपका कलेजा फट सकता है। आप सोचने पर मजबूर हो जाएंगे कि भला ऐसा कौन कर सकता है। राजकोट के मारवाड़ी विश्वविद्यालय में सीनियर्स ने एक जूनियर स्टूडेंट का नहाते हुए वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल करने की धमकी देकर यौन शोषण किया।

सीनियर्स ने छात्र के प्राइवेट पार्ट में सैनिटाइजर, शहद यहां तक की टूथब्रश और पेंसिल तक डाल दी। स्टूडेंट ने बताया कि ऐसा न करने पर सीनियर्स ने उसका प्राइवेट पार्ट काटने की धमकी दी थी। पुलिस ने मामले में 5 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इनमें एक आरोपी नाबालिग है। अभी तक पुलिस ने तीन छात्रों को हिरासत में लिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना 20 अक्टूबर की है।

Also Read -   औरैया: 10 वर्ष के नाबालिग ने 7 साल की मासूम के साथ किया दुष्कर्म

विश्वविद्यालय की मान्यता रद्द करने की मांग
गुजरात राज्य NSUI के अध्यक्ष नरेंद्र सोलंकी ने शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर राजकोट के इस निजी विश्वविद्यालय की मान्यता रद्द करने की मांग की। उन्हें पत्र में कहा गया था कि राजकोट में मोरबी रोड पर स्थित मारवाड़ी विश्वविद्यालय विधा का ठिकाना नहीं बल्कि विवादों का एपी केंद्र बन गया है। इस तरह के विवादों से छात्रों और अभिभावकों की चिंता काफी बढ़ गई है।

Also Read -   फिर से बदले जाएंगे नोटबंदी में बंद हुए 500 और 1000 के नोट? सुप्रीम कोर्ट दे सकती है इजाजत

दरिंदों ने दिए थे तीन ऑप्शन
स्टूडेंट ने बताया कि सीनियर्स ने उसे तीन ऑप्शन दिए थे। उन्होंने कहा कि अपना प्राइवेट पार्ट काट दे, अपने कान काट दे या हॉस्टल की छत से छलांग लगा दे। यह सुनकर छात्र डर गया और कहने लगा कि मुझे छोड़ दो। इस पर सीनियर्स ने उसे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया और उसका यौन शोषण भी किया। सीनियर्स ने उसके प्राइवेट पार्ट में सैनिटाइजर, शहद और पाउडर लगाया। यही नहीं छात्र के प्राइवेट पार्ट में पेंसिल और टूथब्रश भी डाला। इसी तरह सीनियर उसे तीन घंटे तक परेशान करते रहे। पीड़ित ने पीड़ित को मेडिकल जांच के लिए भेजा है।

Also Read -   EWS आरक्षण पर थोड़ी देर मे सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा फैसला, संविधान संशोधन को दी गई है चुनौती

बहन को बताई आपबीती
दरअसल, एक दिन छात्र ने अपनी बड़ी बहन से फोन पर बात करते हुए कहा कि उसे हॉस्टल में नहीं रहना और जोर-जोर से रोने लगा। इस पर बहन को कुछ शक हुआ और पिता के साथ वह अपने भाई से मिलने हॉस्टल पहुंची। पिता और बहन को हॉस्टल में देख स्टूडेंट उनसे लिपटकर रोने लगा और आपबीती सुनाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here