गोरखपुर: लेडी डॉन किशुन कुमारी उर्फ पंडिताइन की संपत्ति कुर्क, जानिए कैसे बनी बदमाश

0

गोरखपुर: जिले के शाहपुर इलाके में स्थित किशन कुमारी पंडिताइन की संपत्ति को पुलिस ने गुरुवार को कुर्क कर दिया। गैंगेस्टर एक्ट के तहत अपराध से अर्जित संपत्ति पर पुलिस ने कार्रवाई की है।

बता दें कि पंडिताइन नही गोरखपुर मे इसमे के कारोबार की शुरुआत की थी

राजघाट थाने की हिस्ट्रीशीटर नंबर 86 ए पर किशुन कुमारी उर्फ पंडिताइन का नाम दर्ज है। राजघाट के चकरा अव्वल निवासी किशुन कुमारी अब शाहपुर मे रहती है। इसने ही गोरखपुर मे स्मैक के धंधे की शुरुआत की थी। राजघाट थाने से गैंगस्टर की कार्रवाई भी इस पर हो चुकी है। पंडिताइन पर राजघाट के अलावा कोतवाली और शाहपुर थाने मे भी केस दर्ज है। अब तक 10 मुकदमे इस पर दर्ज हो चुके है।

Also Read -   प्रेमी के साथ पत्नी को आपत्तिजनक हालत में पति ने देखा, फिर पत्नी ने किया ऐसा कांड

2015 मे 26 लाख के स्मैक के साथ जब पंडिताइन पकड़ी गई थी तो यह बात भी समाने आई थी कि एक दीवान की सह पर उसका पूरा धंधा चलता है। पुलिस से सांठगांठ कर उसने हिस्ट्रीशीट बंद भी करा ली थी, लेकिन फिर 31अगस्त 2022 को उसकी हिस्ट्रीशीट खोल दी गई।

Also Read -   लखनऊ, गोरखपुर, देवरिया, मेरठ, समेत प्रदेश के लोग पेंशन के लिए करे आवेदन

SP सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई ने बताया, पंडिताइन ने अपनी बेटियां मधु और सुनीता के पति राजू गुप्ता और संजय गुप्ता के नाम से भेड़ियागढ़ थाना शाहपुर मे तीन मंजिला पक्का मकान बनवा रखा था। करीब 13.52 करोड़ रुपयों की लागत से बने इस मकान को स्मैक के काले कारोबार से अर्जित किए गए रुपयों से बनवाया गया था। जिसे डीएम गोरखपुर के आदेश पर कुर्क कर दिया गया।

Also Read -   मैनपुरी उपचुनाव: मुलायम का गढ़ बचाने के लिए अखिलेश ने तोड़ी सालों पुरानी कसम, डिंपल को लेकर कही थी बड़ी बात

यह सभी खरैया पोखरा थाना शाहपुर मे रहकर शहर भर मे स्मैक का कारोबार कराते हैं। राजघाट थाने से गैंगस्टर की कार्रवाई भी इस पर हो चुकी है। पंडिताइन पर राजघाट के अलावा कोतवाली और शाहपुर थाने में भी केस दर्ज है। अब तक 10 मुकदमे इस पर दर्ज हो चुके है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here